देखा - सोचा



क्षण भर सोचा


मात्र क्षण भर


सोचा


की अभी अभी जो चेन स्नेचिंग हुयी उसके साथ


नुक्कड़ के मुहाने


और उसकी अपनी गली के सिरहाने पर


क्या बता दे पुलिस को


सोचा


उस सोच को


और देखा उस नजर को


जो देखकर सोचेंगी


कहाँ टिकी थी थी ये चेन ??


और फ़िर दूसरे ही क्षण


ये सोचकर


की चलो बस चेन स्नेचिंग ही हुई


देखा


घर का रास्ता !!

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बाहर मै ... मै अंदर ...

बाज़ार